सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Arnab Goswami Biography in hindi | अर्णब गोस्वामी का जीवन परिचय

Arnab Goswami Biography in hindi | अर्णब गोस्वामी का जीवन परिचय



शिक्षा, आयु, विवाद, सैलरी, जाति, परिवार, केस अर्नब गोस्वामी ( Education, age, dispute, salary, caste, family, case Arnab Goswami)


अगर आप टीवी पर न्यूज़ देखते है तो आप अर्णब गोस्वामी जानते ही होंगे। आप अर्णव गोस्वामी को इंग्लिश न्यूज़ चैनल रिपब्लिक टीवी, और हिंदी न्यूज़ चैनल रिपब्लिक भारत पर देखा होगा। वह रिपब्लिक न्यूज़ नेटवर्क के प्रधान संपादक और मालिक है।  वह भारत के उन गिने चुने पत्रकार मे से एक है जो संपादक होने के साथ न्यूज़ चैनल के मालिक भी है। अर्णव गोस्वामी अपने बेबाक इंटरव्यू के लिए जाने जाते है, और  पत्रकारिता के छेत्र के सबसे प्रसिद्ध पत्रकार है। बड़े-बड़े राजनेता से लेकर अभिनेता और अभिनेत्री तक सभी इनके शो मे इंटरव्यू देना पसंद करते है। क्योंकी उनका न्यूज़ चैनल भारत बस मे ही नहीं कई और देशों मे भी देखा जाता है। जब उन्होंने हिंदी न्यूज़ चैनल की शुरुआत की थी तब उन्होंने बोला था हमने हिंदी छेत्र मे आने मे बहुत समय लगा दिया, भारत मे हिंदी न्यूज़ चैनल का बहुत प्रभाव है और आम जनता तक पहुंच बड़े आसानी से हो जाता है। कुछ ही समय मे उन्होंने अपने हिन्दी न्यूज़ चैनल को भारत मे नंबर एक पर पहुंचा दिया। 


पूरा नाम:- अर्णव रंजन गोस्वामी

जन्म:- 7 मार्च 1973, उम्र47 साल

पिता:- मनोरंजन गोस्वामी

माता:- सुप्रभा गोस्वामी

पत्नी:- समयाव्रता रे गोस्वामी

जन्म स्थान:- गुवाहाटी, असम 

राष्ट्रीयता:- भारतीय

गृहनगर:- गुवाहाटी, असम

धर्म:-हिन्दू 

जाति:- ब्राह्मण

सैलरी:- 1.4 करोड़


अर्णव गोस्वामी जन्म एवं परिवार( Arnab Goswami Birth and Family):-


अर्णव गोस्वामी का जन्म गुवाहाटी असम मे 7 मार्च 1973 मे हुआ था। उनका शुरुआती जीवन असम मे ही गुजरा था। उनके पिता का नाम मनोरंजन गोस्वामी है, वह भारतीय सेना में सेवा दे  चुके हैं, वह कर्नल पद से सेवनिर्वित हुये थे। सेवनिर्वित होने के बाद वह राजनीती मे हाँथ आजमाया, और वह भारतीय जनता पार्टी मे सम्मलित होगये थे।   माता का नाम सुप्रभा गोस्वामी था, वह एक लेखिका है। अर्णव गोस्वामी का परिवार असम राज्य का जाना माना परिवार है। उनके दादा जी रजनीकांत गोस्वामी एक प्रसिद्ध वकील थे, और नाना गौरी शंकर भट्टाचार्य असम मे विधायक  रह चूके है। इनकी शादी कॉलेज की फ्रैंड से हुआ, वह कॉलेज मे उनसे प्यार करते थे, उनकी पत्नी का नाम समयव्रत रे गोस्वामी है, और इनका एक पुत्र है।   


अर्णव गोस्वामी शिक्षा (Arnab Goswami Education):-


अर्णव गोस्वामी की शुरुआती शिक्षा भारत के अलग-अलग स्कूलों से प्राप्त की क्योंकी इनके पिता का ट्रांसफर भारत के अलग अलग जगहों मे होता रहता था।   हालांकि दिल्ली कैंट में स्थित सेंट मैरी स्कूल और जबलपुर छावनी के केंद्रीय विद्यालय मे इन्होंने ज्यादा समय बिताया। उसके बाद उन्होंने बीए समाजशास्त्र की डिग्री  दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिंदू कॉलेज से प्राप्त की। और फिर मास्टर की  डिग्री हासिल करने के लिए अर्णव गोस्वामी 1994 मे इंग्लैंड गये, वहां ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से उन्होंने सोशल एंथ्रोपॉलजी में मास्टर डिग्री हासिल की। 

अर्णव गोस्वामी का करियर (Arnab Goswami's career):-


अर्णव गोस्वामी के एक प्रसिद्ध भारतीय पत्रकार है, वह रिपब्लिक न्यूज़ नेटवर्क के प्रधान संपादक और मालिक है। इन्होंने  पत्रकारिता करियर की शुरुआत 1995 मे 'द टेलीग्राफ' समाचार पत्र से की थी, वह ज्यादा समय तक द टेलीग्राफ के साथ नहीं रहे, एक साल के अंदर ही वह दिल्ली चले गये, क्योंकी वह जानते थे पत्रकारिता के छेत्र मे आगे बढ़ना है तो देश की राजधानी दिल्ली इसके लिये सबसे उपयुक्त स्थान है। 

दिल्ली आने के बाद वह उन्हें एनडीटीवी न्यूज़ चैनल से जुड़ गये, जिसमें उन्होंने न्यूज़ आवर की एंकरिंग से अपने टीवी चैनल के करियर की शुरुआत की। उनके अलग अंदाज और मेहनत से वह बहुत तेज तरक्की करते जा रहे थे, 


2006 में वह एनडीटीवी को   छोड़ कर टाइम्स नाउ न्यूज़ चैनल से जुड़ गये, और इस न्यूज़ चैनल मे प्रधान संपादक के रूप में इन्होंने ज्वाइन किया। इस चैनल मे फ्रेंकली स्पीकिंग विद अर्णव नाम से एक शो आता था, जो काफी ज्यादा प्रसिद्ध हुआ था। इस शो मे देश के ही नहीं विदेशों की भी बड़ी बड़ी हस्तिया आती थी - जिनमे नरेंद्र मोदी, सोनिया गाँधी, अटल बिहारी बाजपेयी, बेनजीर भुट्टो, हामिद करजई, दलाई लामा, हिलेरी क्लिंटन जैसे बड़े-बड़े प्रतिष्ठित लोग शामिल है। इन्होंने पहला इंटरव्यू सोनिया गाँधी का लिया था। 

इनका शो काफी देश मे और  विदेशो मे काफी पसंद किया जाता था, लेकिन इन्होंने 2016 मे  टाइम्स नाउ चैनल छोड़ दिया। कहा जाता है वह टाइम्स नाउ चैनल साथ खुश नहीं थे क्योंकि वहां पर पत्रकारिता की स्वतंत्रता और संपादकीय मतभेदों जैसे राजनीतिक मुद्दों के चलते।

उसके बाद उन्होंने खुद के न्यूज़ चैनल रिपब्लिक टीवी की शुरुआत की। जिसमें वह प्रबंध संपादक के तौर पर काम करते है। उन्होंने  अपनी कड़ी मेहनत से इस छोटे न्यूज चैनल को भारत के सबसे प्रतिष्ठित न्यूज़ चैनल मे शामिल कर दिया है।


अर्णव और रिपब्लिक नेटवर्क (Arnav and Republic Network):-


अर्णव गोस्वामी ने बहुत सारे चैनलों के साथ काम करने के बाद 6 मई 2017 रिपब्लिक टीवी शुरू किया था, जो एशिया नेट कंपनी द्वारा फंडेड था। उनके इस चैनल में मुख्य रूप से राज्यसभा सांसद  राजीव चंद्रशेखर ने निवेश किया था, फिलहाल वह बीजेपी पार्टी के सदस्य है और बीजेपी में शामिल होने के बाद इन्होंने आधिकारिक रूप से एशिया नेट के निदेशक के तौर पर इस्तीफा दे दिया। उनके बाद अर्णव गोस्वामी ने आधे से ज्यादा शेयर खरीद लिए रिपब्लिक नेटवर्क के। आज अर्णव गोस्वामी रिपब्लिक नेटवर्क के सीनियर संपादक और मालिक है। अर्णव के द्वारा शुरू किया गया यह टीवी न्यूज़ चैनल बहुत से विवाद के बावजूद अत्यधिक प्रसिद्ध है। रिपब्लिक टीवी इंग्लिश न्यूज़ चैनल एशिया में यह एक मात्र इंग्लिश न्यूज़ चैनल है जो लगातार 100 हफ़्तों तक नंबर एक की पोजीशन पर रहा है, इससे पहले किसी भी न्यूज़ चैनल ने यह मुकाम हासिल नहीं किया था। 


लेकिन वह इस उपलब्धि के बाद रुके नहीं उन्होंने 2019 मे हिंदी न्यूज़ चैनल रिपब्लिक भारत की शुरुआत की, इस चैनल मे इनका शो 'पूछता है भारत' साम 7 बजे आता है जो इस टाइम स्लॉट का सबसे प्रसिद्ध शो है। इन्होंने और इनकी टीम ने कुछ समय मे ही रिपब्लिक भारत हिन्दी न्यूज़ चैनल को भारत के सबसे आगे पंहुचा दिया, आज सबसे ज्यादा देखें जाने वाला हिन्दी न्यूज़ चैनल है रिपब्लिक भारत। हिन्दी न्यूज़ चैनल इत्ता जल्दी इस ऊचाई मे पहुंचना आसान नहीं था क्योंकि हिन्दी न्यूज़ चैनल मे बहुत ज्यादा कम्पटीशन है भारत मे। उन्होंने अपने न्यूज़ चैनल के माध्यम से बहुत से राज भी उजागर किए,  हालांकि बहुत सारे विवादों का भी इन्हे सामना करना पड़ा। 

अर्णब गोवास्मी से जुड़े विवाद (Controversy related to Arnab Goswami):-


1:- रिपब्लिक टीवी के अध्यक्ष शेखर गुप्ता पर आरोप लगाते हुए लाइव टेलीविजन पर एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया के सदस्य के रूप में 20 अप्रैल 2020 को अर्णव गोस्वामी ने कई कारणों का हवाला देते हुए इस्तीफा दे दिया था।

2:- कांग्रेस नेता शशि थरूर ने अर्णव गोस्वामी और रिपब्लिक टीवी पर आरोप लगाया था कि उनकी पत्नी सुनंदा थरूर की मृत्यु में उन्हें जानबूझ कर अर्णव गोस्वामी फ़साना चाहते है, इसके लिए उन्होंने अर्णव गोस्वामी के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका भी दाखिल की थी। 

3:- सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के बाद अर्णव गोस्वामी ने कई बार इस केस को नए एंगल के साथ अपने न्यूज़ चैनल पर दिखाया, जिससे उन्हें काफी विवाद का सामना करना पड़ा है। लेकिन यह भी सत्य है उनके इस केस मे पीछे पड़े रहने के कारण केंद्र ने सीबीआई  जाँच के आदेश दिये। अर्नव गोस्वामी ने अंकिता लोखंडे और कँगना रणावत के साथ इंटरव्यू करके काफी सुर्खिया बटोरी थी।  Arnab Goswami Biography in hindi

अर्णव गोस्वामी को मिले अवार्ड और सम्मान (Award and honor to Arnav Goswami):-


1:- साल 2004 मे अर्णव गोस्वामी को न्यूज़ नाइट एंकरिंग के लिए एशियाई टेलीविजन पुरस्कारों में एशिया का बेस्ट न्यूज़ एंकर का अवार्ड दिया गया था।


2:- साल 2008 में अर्णव गोस्वामी को पत्रकारिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए रामनाथ गोयंका अवार्ड दिया गया था। 

3:- न्यूज़ चैनल मे एडिटर-इन-चीफ के रूप मे उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिये अर्णव गोस्वामी को साल 2012 में एनडीए अवार्ड दिया गया था।

4:- अर्णव गोस्वामी को 8 दिसंबर 2019 मे सर्वसम्मति से न्यूज ब्रॉडकास्टिंग फेडरेशन का अध्यक्ष  चुना गया था।


अर्नव गोस्वामी नेटवर्थ (Arnab Goswami Net Worth):-


अर्णव गोस्वामी भारत के सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले पत्रकार है, उन्हें हर महीने 1.4 करोड़ सैलरी मिलती है। जब उनका न्यूज़ चैनल रिपब्लिक टीवी नहीं था तब भी वह सबसे ज्यादा सैलरी प्राप्त करने वाले भारतीय पत्रकार थे। उनकी टोटल नेटवर्थ 383 करोड़ है। 

((यहाँ पर हमनें आपको पत्रकार अर्णव गोस्वामी के जीवन के बारे में बताया, यदि आपको उनके बारे मे और कोई जानकारी चाहिए या आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है)) 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

rahul sharma(micromax) biography in hindi | राहुल शर्मा जीवन परिचय| micromax story in hindi

Kamala Harris biography in hindi | कमला हैरिस की जीवनी | कमला हैरिस का जीवन परिचय

Dilip Shanghvi biography in hindi | दिलीप संघवी की जीवनी | Dilip Shanghvi success story in hindi

jr ntr biography in hindi | जूनियर एनटीआर जीवनी

harshad mehta biography in hindi | हर्षद मेहता का जीवन परिचय | harshad mehta scam 1992