सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

kunal bahl biography in hindi | कुणाल बहल जीवन परिचय

kunal bahl biography in hindi


आज ई-कॉमर्स के क्षेत्र में खास पहचान बना चुकी स्नैपडील वेबसाइट से आप कई बार खरीदारी कर चुके होंगे।
 लेकिन क्या आप स्नैपडील के संस्थापक के बारे में जानते हैं? लोग यह सोचते है यह वेबसाइट भारत की है या किसी और देश की।

मन में कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो हर मुश्किल आसान हो जाती है। ई-कॉमर्स के क्षेत्र में खास पहचान हासिल कर चुके स्नैपडील के संस्थापक और सीईओ कुणाल बहल पर यह बात बिल्कुल फिट बैठती है।

कभी एक निजी कंपनी में 6550 रुपए मासिक तनख्वाह की नौकरी करने वाले कुणाल आज देशभर में कई हजार  कर्मचारियों की रोजी-रोटी का जरिया हैं। दून स्कूल के स्थापना दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे कुणाल ने छात्रों के साथ अपने जीवन के ऐसे ही उतार-चढ़ावों के अनुभव साझा किए थे। वहाँ उन्होंने बताया कि उनके बड़े भाई आईआईटी के छात्र थे। माता-पिता हमेशा चाहते थे कि वह भी आईआईटी में जाएं। ढाई साल तैयारी भी की, लेकिन मन नहीं माना। उन्होंने ने आईआईटी जाने का लक्ष्य छोड़ दिया।

कॅरियर की शुरुआत एक मैन्यूफैक्चरिंग कंपनी में 6550 रुपए तनख्वाह से की। लेकिन फिर कुछ दिनों बाद अभिभावकों के दबाव में वह पढ़ाई के लिए अमेरिका चले गए। वहां भी पढ़ाई के साथ कुछ समय एक छोटी सी कंपनी में नौकरी की, फिर कुछ समय बाद उन्हें माइक्रोसॉफ्ट कंपनी मे नौकरी मिल गई। अभी एक खुशी जीवन मे आई ही थी की उन्हें पता चला उनका वीजा समाप्त हो गया है, और कई कोशिश के बावजूद वीजा नहीं बढ़ा तो उन्हें भारत वापस लौटना पड़ा। kunal bahl biography in hindi

फिर भारत आने के बाद उन्होंने भारत ही बिजनेस करने का सोचा और कुछ समय बिजनेस के बारे में सोचते रहे। और फिर 2009 में डिस्काउंट कूपन बुक कंपनी ‘मनी सेवर’ शुरू की। इस कंपनी मे  लोगों को कूपन बेचकर रेस्टोरेंट में खाने, खरीदारी आदि में कुछ छूट दी जाती थी। लेकिन डेढ़ साल में 1 करोड़ कूपन बेचने का टारगेट सिर्फ 53% पर ही अटक गया। कुणाल बताते है की इसके बाद उन्हें लगा कि उनका बिजनेस फेल हो गया।

 25 जून 2010 को उन्हें कूपन की सेलिंग ऑनलाइन करने का आइडिया आया और जिसके बाद आठ दिन के भीतर ही उन्होंने वेबसाइट लांच कर दी। उन्होंने बताया कि शुरुआत में नतीजे अच्छे नहीं रहे, लेकिन धीरे-धीरे रेस्पांस अच्छा आने लगा। फिर उन्होंने ई-कॉमर्स की बारीकियां सीखने के लिए वर्ष 2011 में चीन चले गए। आज  स्नैपडील देश की अग्रणी ई-कॉमर्स कंपनियों में से एक है। kunal bahl biography in hindi

कुणाल बहल की नेटवर्थ 2021 मे 210 करोड़ रूपये है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

jr ntr biography in hindi | जूनियर एनटीआर जीवनी

rahul sharma(micromax) biography in hindi | राहुल शर्मा जीवन परिचय| micromax story in hindi

Dilip Shanghvi biography in hindi | दिलीप संघवी की जीवनी | Dilip Shanghvi success story in hindi

Sweta Singh Biography in hindi | श्वेता सिंह का जीवन परिचय

Rajkumari amrit kaur biography in hindi | राजकुमारी अमृत कौर की जीवनी | भारत की पहली महिला केंद्रीय मंत्री